गुजरात की लड़ाई आतंकवाद, लव जिहाद, चायवाला तक आई

उभरता भारत (Rashtra Paratham): गुजरात की 89 सीटों पर वोटिंग के लिए चुनाव प्रचार 29 नवंबर की शाम को थम जाएगा। जाहिर है कि सभी राजनीतिक दलों ने अपने आखिरी और सबसे अहम अस्त्र उतार दिए हैं। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर तीखे हमले बोले तो कांग्रेस ने भी उन पर सीधा निशान साधा।

आतंकवाद, लव जिहाद, राहुल गांधी ढाढ़ी से लेकर चायवाले तक जुबानी जंग आक्रमक हो गई। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद को मिलने वाली गालियों और अपनी चाय वाले की इमेज को आगे किया तो कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने भी एंट्री लेते हुए प्रधानमंत्री को झूठों का सरदार बता दिया। इतना ही नहीं जाति कार्ड खेलते हुए खरगे ने कहा कि आप तो किस्मत वाले हैं कि लोग आपकी चाय पी लेते थे, हम तो अछूत हैं।

हमारी दी चाय तो कोई छूता तक नहीं है, पीना तो दूर की बात है। राहुल गांधी भले ही गुजरात में न हो लेकिन मोदी सरकार को लगातार घेर रहे हैं। वो ये  कह रहे हैं कि पीएम मोदी आठ साल से मनी ट्रांसफर स्कीम चला रहे हैं। वो याद दिला रहे हैं कि उनकी दादी को गोली लगी थी। पिता की बम विस्फोट में जान गई थी।