शूटर्स के खिलाफ इनामी राशि में हुई बढ़ोतरी

बसपा के प्रयागराज से विधायक रहे राजू पाल हत्याकांड में मुख्य गवाह उमेश पाल और उसके दो गनर की हत्या के बाद से ही हड़कंप मचा हुआ है। अब इस मामले में अतीक अहमद के बेटे समेत पांच आरोपियों पर इनाम की राशि में बढ़ोतरी की गई है। संभावना है कि इस पूरे मामलमे में माफिया अतीक अहमद का हाथ है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी अतीक अहमद का बेटा असद, अरमान, गुड्डू मुस्लिम, मोहम्मद गुलाम और सब्बीर पर इनाम की राशि 50-50 हजार से बढ़ाकर ढाई-ढाई लाख कर दिया है।

डीजीपी डीएस चौहान ने इस संबंध में जानकारी साझा की है। पुलिस ने ये भी साफ किया है कि जो भी आरोपियों के संबंध में जानकारी साझा करेगा उनकी पहचान को गुप्त रखा जाएगा। इस संबंध में उत्तर प्रदेश पुलिस के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गय है। ट्वीट के मुताबिक डीजी उत्तर प्रदेश द्वारा प्रयागराज में दि0 24/2/23 को घटित आपराधिक घटना में वांछित अभियुक्तों को गिरफ़्तार करने या उनकी गिरफ़्तारी के बारे में सूचना देने पर प्रति अभियुक्त 2,50,000/- रुपये पुरस्कार की घोषणा की गयी है। यूपी पुलिस की कई टीम अभियुक्तों की गिरफ़्तारी हेतु निरंतर प्रयासरत हैं।

 

गौरतलब है कि उमेश पाल की 24 फरवरी को हमला कर हत्या कर दी गई थी। हमलावरों ने पूरी प्लानिंग के साथ उमेश पाल की हत्या को अंजाम दिया था और 14 राउंड की फायरिंग के बाद उसे मौत के घाट उतार दिया था। इस फायरिंग के बाद से ही इलाके में तनाव और दहशत का माहौल है। वहीं पुलिस इस शूटआउट के 10 दिन बीतने के बाद भी आरोपियों को पकड़ने में सफल नहीं हुई है। पुलिस और एसटीएफ की कई टीमें 6 राज्य के 50 जिलों में छापेमारी कर रही हैं. मध्यप्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र में छापेमारी कर रही है। झारखंड, बिहार और हैदराबाद में भी छापेमारी जारी है। राज्य सरकार ने अतीक के करीबियों के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू कर दी है। उनकी संपत्तियों पर बुलडोजर एक्शन भी लगातार जारी है। इस मामले में अबतक पुलिस एक आरोपी अरबाज को मुठभेड़ में ढ़ेर कर चुकी है। मुस्लिम हॉस्टल का एक आरोपी सआदत पुलिस की हिरासत में है। पुलिस का कहना है कि अन्य आरोपी भी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।