रायपुर: ओपी चौधरी बोले- कांग्रेस अधिवेशन समुद्र मंथन नहीं जो अमृत निकलता

भाजपा प्रदेश महामंत्री ओपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस का अधिवेशन कोई समुद्र मंथन नहीं था, जो अमृत निकलता । तीन दिनों से चल रहा मंथन के बाद आखिर झाग ही झाग निकल रहा है। वहीं ओपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस गांधी परिवार से शुरू होकर, गांधी परिवार से होते हुए, गांधी परिवार पर ही खत्म हो जाता है।

जिस राहुल गांधी ने कांग्रेस को दो बार विपक्ष के लायक तक नहीं छोड़ा। जो सीधे नेतृत्व लेने की जिम्मेदारी से बचकर रिमोट से कांग्रेस चलाना चाहते हैं। उसी राहुल के पीछे  कांग्रेस चलेगी। देश में एकता और अखंडता की दुहाई देने वाले राहुल सनातन संस्कृति का अपमान करते हुए हिंदू और हिंदुत्व में भेद करते हैं, सन्यासी और पुजारियों में भेद करते हैं और वही इंसान भारत जोड़ों का नारा देते है। क्या देश में बहुसंख्यक वर्ग का अपमान कर उनकी संस्कृति का अपमान करके देश को जोड़ा जा सकता है?

अधिवेशन की पूर्णाहुति यह की 76 वर्ष की सोनिया गांधी कहती है मैं थक गई हूं, अब मेरे सन्यास का समय आ गया है। और वहीं नए-नए अध्यक्ष बने 80 वर्ष के बुजुर्ग खरगे कांग्रेस को नया उत्साह के साथ नई दिशा में ले जाने का संकल्प पारित करते हैं।