कांग्रेस नेता और पत्नी की हत्या में 5 गिरफ्तार

रायगढ़ के लैलूंगा में पुलिस ने सोमवार को कांग्रेस नेता और व्यापारी मदन मित्तल और उनकी पत्नी अंजू देवी की हत्या का खुलासा कर दिया। एसपी अभिषेक मीणा ने बताया कि हत्याकांड को चोरी करने की नीयत से घर में घुसे 4 नाबालिग और दो युवकों ने अंजाम दिया था। चोरी करने के दौरान मदन और उनकी पत्नी की नींद खुल गई थी, इसलिए आरोपियों ने उन्हें मार डाला। आरोपियों के पास से 80 हजार रुपए बरामद किए गए हैं।पुलिस के मुताबिक घटना के बाद सीसीटीवी फुटेज की जांच में वारदात की रात सांई पेट्रोल पंप के पास 3-4 युवकों का मूवमेंट दिखा था। ये लोग मित्तल निवास के पीछे एक चखना दुकान की तरफ भी गए थे। पुलिस ने दुकान का सीसीटीवी फुटेज चेक किया तो उसमें 3 लड़के चोरी करते दिखे। इसके बाद ये लोग मित्तल निवास की ओर गए थे। इनकी पहचान की गई और हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। इनके बयान के बाद एक नाबालिग और अक्षय प्रधान को पकड़ लिया गया, जबकि दूसरा आरोपी संदीप कोंदा फरार है।पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए नाबालिगों ने बताया कि गांव का अक्षय प्रधान और संदीप कोंदा उन्हें चोरी के लिए उकसाते थे। 22 सितंबर की दोपहर इन दोनों ने बड़ा हाथ मारने कहा था। ये सभी लैलूंगा के सरस्वती शिशु मंदिर के मैदान में नशा करते थे। 22 तारीख की रात भी ये लोग चखना दुकान से गुटखा पाउच, सिगरेट, कोल्डड्रिंक चोरी कर यहां पहुंचे। यहां पहले से संदीप कोंदा और अक्षय व एक और लड़का पहले से मौजूद थे। इन लोगों ने यहां नशा किया और फिर मित्तल के घर की ओर निकले।ये सभी तीन-चार घरों में तांक-झांक करते हुए मदन मित्तल के घर तक पहुंचे। यहां मकान के पिछले हिस्से में निर्माण के लिए बांस लगे हुए थे। बांस के सहारे एक नाबालिग आसानी से रोशनदान तक पहुंचा और आरी ब्लेड से रोशनदान की जाली काटकर नीचे उतर गया। उसने अंदर की ओर से दरवाजा खोल दिया। इसके बाद सभी छह लोग अंदर कमरे में पहुंच गए।