नोएडा : फर्जी कॉल सेंटर बना पांच लाख लोगों से करोड़ों रुपए ठगे

खबरें देश की (Rashtra Pratham) नोएडा के साइबर थाना पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर बनाकर देशभर में पांच लाख लोगों से एक अरब रुपये से ज्यादा की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने शनिवार को नौकरी और लोन दिलाने का झांसा देने वाले पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है।एसपी साइबर क्राइम त्रिवेणी सिंह ने बताया कि साइबर थाना पुलिस को शिकायत मिली थी कि कुछ लोग नौकरी और लोन दिलाने के नाम पर ठगी कर रहे हैं। इससे संबंधित शिकायत मिलने पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी। जांच में सामने आया कि आरोपी नोएडा के सेक्टर 3 और गाजियाबाद के शालीमार गार्डन में फर्जी कॉल सेंटर बनाकर ठगी कर रहे हैं।पुलिस ने शनिवार को अंतर्राज्यीय गिरोह के पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया। इनकी पहचान दिल्ली के द्वारका स्थित डाबरी एक्सटेंशन निवासी मयंक तिवारी, गाजियाबाद के शालीमार गार्डन निवासी रोहित, कृष्णपाल, ग्रेनो सेक्टर 1 स्थित विहान हैरिटेज निवासी इंद्र कुमार बैरवा उर्फ राहुल और दिल्ली के अशोकनगर निवासी अमित कुमार के रूप में हुई।पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह फर्जी कॉल सेंटर के माध्यम से बेरोजगारों के पास कॉल करके नौकरी व लोन दिलाने का झांसा देकर ठगी कर रहे थे। गिरोह ने विभिन्न राज्यों के पांच लाख लोगों से एक अरब से ज्यादा रुपये की ठगी की। पुलिस ने आरोपियों से 27 मोबाइल, पीड़ितों के नाम लिखे 16 रजिस्टर, 4 लैपटॉप, एक वाइफाइ राउटर, दो चैक बुक, 3 मुहर, 4 बैंक खाते की बुक बरामद की है। पुलिस ने पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।साइबर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर विनोद पांडे ने बताया कि आरोपियों में शामिल रोहित, कृष्णपाल और इंद्र कुमार बीटेक पास हैं, जबकि मयंक तिवारी और अमित ने बीएससी की पढ़ाई कर रखी है। पढ़ाई के दौरान ही आरोपियों ने ठगी का धंधा शुरू कर दिया था। गिरोह का मास्टरमाइंड अमित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *