UP: आगरा से लापता बीटेक छात्र की हत्या, मथुरा में ऐसे हाल में मिली लाश

मथुरा के छटीकरा-वृंदावन मार्ग पर वैष्णो देवी मंदिर के पास एक खाली भूखंड में शुक्रवार को आगरा से लापता बीटेक छात्र का शव मिलने से सनसनी फैल गई। छात्र की गर्दन पर भारी वस्तु से प्रहार कर वारदात को अंजाम दिया गया था। प्रारंभिक जांच में प्रेम प्रसंग के चलते वारदात को अंजाम देना सामने आया है।

फर्रुखाबाद के मेरापुर थाना क्षेत्र के गांव दहेलिया निवासी रमन यादव (22) पुत्र अरविंद कुमार आगरा के खंदारी कैंपस में रहकर बीटेक तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। उसकी चचेरी बहन भी यहीं रहकर पढ़ रही है। रमन 15 मार्च को पेपर देने नहीं गया तो बहन को चिंता हुई। कैंपस में चचेरे भाई के नहीं दिखने पर परिजन को पूरी जानकारी दी। परिजन भी तलाश में जुट गए और थाना न्यू आगरा में गुमशुदगी दर्ज करा दी।

शुक्रवार को छटीकरा-वृंदावन मार्ग पर वैष्णो देवी मंदिर के पास एक खाली प्लॉट में शव मिलने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शिनाख्त के लिए जनपद के थानों और आसपास के जिलों में फोटो भेजा। इसी दौरान रमन की तलाश में जुटे परिजन भी मथुरा आ गए और शव की शिनाख्त की। सीओ सदर प्रवीण मलिक ने बताया कि रमन की हत्या गर्दन पर भारी वस्तु से प्रहार किया गया है। आशंका है कि हत्या के बाद उसका शव भूखंड में फेंक दिया है। फिलहाल थाना न्यू आगरा में हत्या में मुकदमा तरमीम होगा।

गर्दन की हड्डी टूटने से हुई मौत

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि गर्दन की हड्डी टूटने से रमन की मौत हुई है। पुलिस का कहना है कि परिजन ने आशंका जताई है कि रमन किसी लड़की के साथ प्रेम प्रसंग में था। उसकी शादी हो जाने के कारण उसे रास्ते से हटाया गया है। न्यू आगरा थाना में तीन दिन पहले गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी।

मोबाइल से मैसेज डिलीट

15 मार्च को लापता होने से पहले रमन अपने मोबाइल के अलावा सभी सामान कमरे में छोड़ गया था। मोबाइल में जरूरी मैसेज आदि उसने डिलीट किए हैं। इसके बाद कैंपस से निकला तो फिर नहीं लौटा।