हमारी सरकार ने इंजीनियर्स पर जताया भरोसा: PM मोदी

Main Stories (Rashtra Pratham) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा मंत्रालय के एक बेविनार को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि बजट के बाद भारत सरकार अलग-अलग क्षेत्र के लोगों के साथ चर्चा करके बजट को कैसे-कैसे इंप्लीमेंट किया जाए और बजट के लिए साथ मिलकर कैसे रोडमैप तैयार हो, इस पर चर्चा हो रही है। आज रक्षा मंत्रालय के वेबीनार में भाग ले रहे सभी पार्टनर्स, स्टैक होल्डर्स के साथ चर्चा का मौका मिला है।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत रक्षा क्षेत्र में कैसे आत्मनिर्भर बने। इस संदर्भ में आज का संवाद काफी अहम है। बजट के बाद रक्षा क्षेत्र में क्या नई संभावना बनी है ? हमारी आगे की क्या दिशा हो ? इस बारे में जानकारी और मंथन दोनों जरूरी है। जहां हमारे वीर जवान ट्रेनिंग लेते हैं वहां हम कुछ ऐसा लिखा हुआ देखते हैं कि शांतिकाल में बसाया पसीना, युद्ध काल में रक्त बहने से बचाता है। यानी, शांति की प्री-कंडिशन है वीरता। वीरता की प्री-कंडीशन है सामर्थ्य। सामर्थ्य की प्री-कंडीशन है पहले से की गई तैयारी और बाकी सब उसके बाद आता है।