लोकसभा की कार्यवाही फिर शुरू

Main Stories (Rashtra Pratham) कोरोना महामारी के बीच संसद का मानसून सत्र सोमवार यानी आज से शुरू हो चुका है। मानसून सत्र में सीमा पर गतिरोध, कोरोना वायरस महामारी से निपटने और आर्थिक स्थिति जैसे मुद्दे छाए रहने की संभावना है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अधिकांश दलों के नेताओं ने 30 मिनट तक प्रश्नकाल और शून्यकाल पर सहमति व्यक्त की। 4 घंटे के लिए सदन चलेगा और मैंने अनुरोध किया था कि उसमें प्रश्नकाल न हो। मैं सदन के सभी सदस्यों से सहयोग की अपील करता हूं क्योंकि सत्र असाधारण स्थिति में आयोजित किया जा रहा है। इस बात की भी जानकारी देना चाहता है लिखित प्रश्न के माध्यम से जो भी जानकारी चाहिए उसकी जानकारी मंत्री देंगे।लोकसभा की कार्यवाही फिर से शुरू हो गई है। स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि लोकसभा के सांसद राज्यसभा और राज्यसभा के सांसद लोकसभा में बैठेंगे। सदस्यों के बीच दूरी होगी। डिजिटलाइजेशन बढ़ाया गया है। कई व्यवस्थाएं-प्रबंध पहली बार किए गए हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना के कारण उपजी परिस्थितियों का सामना करने में देश की जनता ने अद्भुत एकता व संगठन शक्ति प्रदर्शित की है। संक्रमण को नियंत्रित करने के प्रयासों में कोरोना योद्धाओं ने उत्कृष्ट योगदान दिया है। सांसदों ने चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में अपने क्षेत्रों में जनसेवक के रूप में वंचित-अभावग्रस्त वर्ग सहित अधिकतम लोगों तक मदद पहुंचाई।ओम बिरला ने कहा कि लोकसभा सचिवालय का कंट्रोलरूम जनप्रतिनिधियों व आम जन के बीच मजबूत कड़ी बना। इस हेतु सबको साधुवाद। मेरा विश्वास है कि केंद्र व सभी राज्य सरकारों के सामूहिक प्रयासों, सभी दलों के नेताओं की सहभागिता, कोरोना योद्धाओं के समर्पित योगदान और व्यापक जन-सहयोग से हम कोरोना महामारी पर शीघ्र ही विजय प्राप्त कर लेंगे। लोकतंत्र तभी समृद्ध होता है जब सकारात्मक भावना के साथ जनहित व राष्ट्रहित के विषयों पर चिंतन प्रस्तुत हो। सत्र के दौरान पक्ष-विपक्ष जीवंतता के साथ समाज व देश हित के अंतिम लक्ष्य की प्राप्ति की ओर अग्रसर रहेंगे, ऐसा विश्वास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *