भारत की शान हैं ये ऐतिहासिक किले

इतिहास के झरोखों से (Rastrapratham): भारत प्राचीन किलों और स्मारकों का देश है, जो आज इतिहास की रोचक कहानियां बयां करते हैं। राजस्थान और महाराष्ट्र दो ऐसे राज्य हैं, जहां सबसे अधिक किले हैं। आज हम ऐसे ही भारत के कुछ आलीशान और एतिहासिक किलों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो देश की शान हैं। इसमें पहला है, राजस्थान के जोधपुर शहर में स्थित मेहरानगढ़ किला। यह 500 साल से भी ज्यादा पुराना और काफी बड़ा है। यह विशालकाय किला 125 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और आठ द्वारों व अनगिनत बुर्जों से युक्त है। यह किला 10 किलोमीटर लंबी ऊंची दीवार से घिरा है। यह भारत के प्राचीनतम किलों में से एक है और भारत के समृद्धशाली अतीत का प्रतीक है। कहते हैं कि जोधपुर के संस्थापक राव जोधा ने पहाड़ी पर इस किले की नींव डाली थी, जिसे महाराज जसवंत सिंह ने पूरा किया था।

आगरा का किला

उत्तर प्रदेश के आगरा में स्थित इस किले को यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया है। यह भारत का सबसे महत्वपूर्ण किला है, जहां कई मुगल सम्राट रहते थे और यहीं से पूरे भारत पर शासन किया करते थे। कहते हैं कि इस किले के निर्माण में 14 लाख 44 हजार कारीगर और मजदूरों ने आठ साल तक लगातार मेहनत की थी, तब जाकर वर्ष 1573 में यह बन कर तैयार हुआ था।

सोनार का किला

राजस्थान के जैसलमेर में स्थित इस किले को ‘गोल्डन फोर्ट’ भी कहते हैं। इसकी वजह ये है कि इस किले पर जैसे ही सुबह सूरज की किरणें पड़ती हैं, यह सोने की तरह चमक उठता है। इसके अलावा चूंकि यह किला रेगिस्तान के बीच में है, इसलिए इसे ‘रेगिस्तान का दुर्ग’ भी कहा जाता है।  यह दुनिया के सबसे बड़े किलों में से एक है, जो 250 फुट ऊंचा है और 30 फुट ऊंची दीवारों से घिरा हुआ है। कहते हैं कि 1156 ईस्वी में भाटी राजपूत शासक जैसल ने इस किले को जैसलमेर में एक ताज की तरह बनवाया था।

कुंभलगढ़ का किला

राजस्थान के राजसमंद जिले में स्थित इस किले का निर्माण महाराणा कुम्भा ने वर्ष 1459 में करवाया था।  इस किले को ‘अजयगढ़’ भी कहा जाता था, क्योंकि इसपर विजय प्राप्त करना बड़ा ही मुश्किल था। इस किले की सबसे बड़ी खासियत ये है कि इसकी दीवार चीन की दीवार के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी दीवार है, जो 36 किलोमीटर लंबी है। इस किले की एक और विशेषता ये है कि किले के अंदर 350 से भी ज्यादा मंदिर हैं, जिनमें से कुछ प्राचीन जैन मंदिर हैं तो कुछ हिंदू मंदिर।

चित्तौड़गढ़ का किला

यह भारत का सबसे विशाल किला है, जो राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में स्थित है। यह एक विश्व विरासत स्थल है। इसे साल 2013 में यूनेस्को विश्व विरासत स्थल घोषित किया गया था। 700 एकड़ में फैला यह किला 500 फुट की ऊंचाई पर बना है। इतिहासकारों के मुताबिक, इस किले का निर्माण मौर्यवंशीय राजा चित्रांगद मौर्या ने सातवीं शताब्दी में करवाया था। हालांकि कुछ लोगों का यह भी कहना है कि महाभारत के भीम ने इस किले को करीब 5,000 साल पहले बनवाया था।