सर्दियों में धूप काफी नहीं, इन फूड्स से भरपूर लें विटामिन डी

विटामिन डी, जिसे ‘सनशाइन विटामिन’ के रूप में भी जाना जाता है, एक आवश्यक पोषक तत्व है, जिसे हमारे शरीर पर शक्तिशाली प्रभाव के लिए जाना जाता है। भारत जैसे देश में जहाँ पर प्रचुर मात्रा में धूप मौजूद रहती है, यह जानकर हैरानी होती है कि यहाँ आबादी का बड़ा हिस्सा विटामिन डी की कमी से पीड़ित है।विटामिन डी शरीर में कैल्शियम, मैग्नीशियम और फॉस्फेट जैसे महत्वपूर्ण खनिजों के विनियमन और अवशोषण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा, यह विटामिन प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है और हड्डियों और दांतों के विकास के लिए इसे महत्वपूर्ण माना जाता है। शरीर में विटामिन डी की कमी से हड्डियों में, जोड़ों या पीठ में दर्द, मांसपेशियों में दर्द आदि हो सकता है। अगर कमी ज्यादा हो जाए तो ऑस्टियोपोरोसिस, रिकेट्स और गठिया जैसी बिमारियों का खतरा बढ़ सकता है।हम सभी जानते हैं कि सूरज की रोशनी विटामिन डी के सबसे अच्छे प्राकृतिक स्रोतों में से एक है। हालांकि, हम में से ज्यादातर अपने इनडोर नौकरियों की वजह से सूरज की रोशनी का ज्यादा लाभ नहीं उठा पाते हैं और इस तरह विटामिन डी की उचित मात्रा से वंचित रह जाते हैं। ऐसे में उन्हें कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जो उनकी विटामिन डी की कमी को पूरा कर सके।