रखना है ब्लड प्रेशर को कंट्रोल तो खाएं यह आहार

आजकल लोगों के बदलते लाइफस्टाइल के चलते हमें कई स्वास्थ संबंधी दिक्कतों व बीमारियों का सामना करना पड़ता है। जिनमें से हाई ब्लड प्रेशर यानि उच्च रक्तचाप की समस्या काफी आम व गंभीर होती जा रही है। धूम्रपान, एक्सरसाइज़ की कमी, खराब खानपान, मोटापा और तनाव जैसी वजहों से हम ब्लड प्रेशर जैसी समस्याओं से जूझ रहें है। वैसे तो ज्यादातर लोग ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए दवाओं का सहारा लेते हैं। लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट खुद नैचुरल डाइट से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखना ज्यादा बेहतर विकल्प मानते हैं। क्योंकि ब्लड शुगर लेवल का संतुलन बनाए रखने में हमारा खानपान एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यही कारण है कि हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए सही और संतुलित डाइट ब्लड प्रेशर कंट्रोल के लिए काफी ज़रूरी है। औऱ हाई बीपी के लिए तो कुछ चीजें ऐसी है जो हाई बीपी को कंट्रोल में रखने का काम करती हैं।एक रिसर्च के मुताबिक रोज़ाना एक ग्लास चुकंदर का जूस पीने से बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। क्योंकि चुकंदर में उच्च मात्रा में फाइटोकैमिकल और एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। यह हमारे ब्लड फ्लो को बेहतर करता है जिससे बढ़े ब्लड प्रेशर में कमी आती है और ये कंट्रोल हो जाता है। आप चाहें तो चुकंदर को सेवन हर रोज़ सलाद की तरह भी कर सकते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट का मानना है कि आंवला, नींबू, अंगूर और संतरा जैसे खट्टे फलों में ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने की अचूक क्षमता होती है। इन सिटरस फ्रूट्स में कई तरह के विटामिन और मिनरल्स मौजूद होते हैं जो कि हृदय रोगों के जोखिम को कम करते हैं। साथ ही, संतरे और अंगूर का जूस पीने से भी ब्लड प्रेशर के खतरे को टाला जा सकता है।पालक एक बहुत ही गुणकारी व हरी सब्जी है। इसमें मौजूद मैग्नीशियम, पोटैशियम, फोलेट और नाइट्रेट्स भी सेहत के लिए बहुत लाभकारी है। और ऐसा माना गया है कि सप्ताह में रोज़ाना पालक का सूप पीने वालों में हाई और लो ब्लड प्रेशर का खतरा कम हो जाता है। इसके अलावा आप इसे सब्जी, सलाद या सैंडविच में इस्तेमाल कर अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। तरबूज़ में लाइकोपीन की मात्रा पाई जाती है जो कि हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के साथ-साथ दिल के दौरे के खतरे को भी कम करता है। इसे देर रात खाने से और खाली पेट से बचना चाहिए। एक व्यक्ति रोज़ाना दो कप तरबूज़ खा सकता है।स्ट्राबेरी हमारे हाई ब्लड प्रेशर जैसे गंभीर रोगों से हमारा बचाव करने में सक्षम है। स्ट्रॉबेरीज़ में पाए जाने वाला एंथोसियानिन नाम का एंटी-ऑक्सीडेंट है जो कि एक लाजवाब चीज़ है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। साथ ही स्ट्रॉबेरी में मौजूद फ्लेवोनॉइड्स और एंटीऑक्सीडेंट्स बैड कॉलेस्ट्रॉल से भी बचाव करती हैं, जिससे हमारी आर्टरिज़ ब्लॉक होने से बच जाती हैं।लहसुन ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करने में मदद करता है क्योंकि इसमें एलिसिन नाम का तत्व पाया जाता है। हर रोज़ खाने में 2 से 3 लहसुन की कली के सेवन से आपकी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स भी इस समस्या को कंट्रोल कर, राहत दिलाते हैं। इसके अलावा लहसुन ब्लड वेसेल्स में मदद कर खून के फ्लो को बेहतर बनाता है।